শুক্রবার, মে 24, 2024
HomeNewsHoli Kitne Tarikh ko Hai

Holi Kitne Tarikh ko Hai

 

Holi Kitne Tarikh ko Hai

 

Holi Kitne Tarikh ko Hai:  इस बार साल 2023 में होली कब है? होली का उत्सव कब मनाया जाएगा? इन प्रश्नों को लेकर कोई चिंता करने की बात नहीं है, क्योंकि आज हम होली कितने तारीख को है? इन सब प्रश्न का उत्तर इस पोस्ट में देने जा रहे हैं। तो होली के बारे में जानने के लिए पोस्ट के अंत तक अध्ययन करें।

Holi Kitne Tarikh

Holi Kitne Tarikh ko Hai
Holi Kitne Tarikh ko Hai
  • साल 2023 में होलीका उत्सव मनाया जाएगा- 7 मार्च मंगलवार होलीका उत्सव होगा।
  • 8 मार्च बुधवार रंग वाली होली खेली जाएगी।
  • पूर्णिमा तिथि प्रारंभ होगी- 6 मार्च सोमवार शाम 4:18 बजे से
  • पूर्णिमा तिथि समाप्त होगा- 7 मार्च मंगलवार शाम 6:10 तक।
  • होलीका उत्सव का शुभ मुहूर्त- 7 मार्च मंगलवार शाम 06:29 से रात 08:52 तक।
  • भद्रा काल का प्रारंभ होगा- 6 मार्च सोमवार शाम 4:48 से।
  • भद्रा काल समाप्त होगा- 7 मार्च मंगलवार सुबह 05:14 तक।

होली के 8 दिन पहले होलाष्टक तारीख

  • 2023 में होलाष्टक रहेगा- 27 फरवरी सोमवार से 7 मार्च मंगलवार तक।

Tarikh ko Hai || होली का शुभ मुहूर्त

Tarikh ko Hai : होली का शुभ मुहूर्त: इस बार पंचांग के अनुसार 6 मार्च 2023 को शाम के समय से भद्रा का साया लग जाएगा । और ज्योतिष शास्त्र में कहा जाता है कि भद्र काल में कहीं भी शुभ कार्य नहीं करना चाहिए। खास तौर पर होली का दिन बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए । पूरे साल में दो ही मुख्य त्यौहार होते हैं ।

Holi Kitne Tarikh ko Hai

Holi Kitne Tarikh ko Hai

जिसमें भद्रा कालका विशेष रूप से विवेचना किया जाता है । अगर बात किया जाए होलीका उत्सव की तो होलीका उत्सव शुभ मुहूर्त में ना किया जाए तो उसका परिणाम घर परिवार के सदस्यों को भुगतना पड़ सकता है।

Also Read- Click Here

होलिका उत्सव

होलिका उत्सव: होलिका उत्सव हमेशा फाल्गुन पूर्णिमा को प्रदोष काल के समय करना चाहिए । और अगर पूर्णिमा के तिथि दो दिन तक पर रही हो तो , ऐसे में जिस तिथि में भद्र काल का साया भी लगा हो या भद्राकाल का सजा पूरी तरह से लागी हुई हो ,उस स्थिति में होलीका पालन करना चाहिए।

होली का भद्राकाल

होली का भद्राकाल: 2023 साल में भद्रा काल का समय 6 मार्च को शाम 4:48 मिनट से शुरू हो जाएगा और 7 मार्च को सुबह 5:14 पर समाप्त होगा, इसलिए 6 मार्च शाम को प्रदोष काल समय आपको प्राप्त हो तो तो उसमें भद्रा का साया रहेगा और 7 मार्च को हालांकि पूर्णिमा की तिथि शाम को जल्दी समाप्त हो रही है।

भारत का लोकप्रिय त्यौहार होली

होली उत्सव भारत देश का लोकप्रिय त्यौहार है।  यह त्यौहार साल फाल्गुन महीने की पूर्णिमा को मनाया जाता है।  यह उत्सव हिंदुओं का एक प्रसिद्ध उत्सव माना जाता है। होली को आंचलिक भाषा में रंगों का त्योहार कहा जाता है ।

Holi Kitne Tarikh ko Hai
Holi Kitne Tarikh ko Hai

होली का त्योहार पूरे भारत में बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है। इस दिन घरों में तरह-तरह के पकवान बनाए जाते हैं । होली का त्योहार लोग आपस में गले लगाकर और एक दूसरे को रंग लगाकर मनाते हैं।  इस दौरान धार्मिक और फाल्गुन गीत भी गाए जाते हैं।

Pratidin24ghanta.com

RELATED ARTICLES

Most Popular

close