বৃহস্পতিবার, এপ্রিল 25, 2024
HomeNewsDelhi vs Mumbai || Delhi vs Mumba Comparison

Delhi vs Mumbai || Delhi vs Mumba Comparison

 

Delhi vs Mumbai || Delhi vs Mumba Comparison

 

Delhi vs Mumbai || Delhi vs Mumba Comparison:  भारत के प्रमुख दो शहर दिल्ली और मुंबई, लेकिन इन दोनों शहरों में एसी क्या खास बात है लेकिन दिल्ली भारत की राजधानी है तो वही मुंबई भारत की आर्थिक राजधानी है । मुंबई भारत का सबसे अमीर शहर है ,तो वही दिल्ली देश का दूसरा सबसे अमीर शहर है ।

Delhi vs Mumbai
Delhi vs Mumbai

दोनों ही शहर में देशभर के लोग रोज रोजगार की तलाश में जाते हैं। खाने पीने की जगह से लेकर घूमने फिरने की जगह तक बात की जाए तो मुंबई और दिल्ली दोनों ही शहर बेस्ट माने जाते हैं । लेकिन दिल्ली और मुंबई की कंपैरिजन किया जाए तो कौन सी सिटी ज्यादा वेदर साबित होगी इसी विषय पर हम इस पोस्ट में बताएंगे।

Delhi City Introduction

Delhi City Introduction:  दिल्ली दिल वालों के लिए माना जाता है । capital of India Delhi। देश का राजधानी देश का धड़कन ,देश का ताकत ,देश का शान एक दिल्ली शहर जिसे कहा जाता है दिलवालों का शहर। क्योंकि दिल्ली में रहने वाले लोग दिलदार होते हैं।

इतिहास युग से लेकर आज तक दिल्ली तेजी से बढ़ते गया और आज दुनिया में एक प्रसिद्ध शहर के नाम से जाना जाता है। इंडिया के टॉप फाइव सिटी में से दिल्ली का नाम भी आता है । यह शहर इंडिया के सबसे बड़ा शहर है। दिल्ली शहर में किसी चीज की कमी नहीं है हर चीज की सुविधाएं उपलब्ध है।

Delhi City Population

Delhi City Population: दिल्ली भारत के प्राचीन शहरों में से एक है । दिल्ली शहर का ऑफिशियल नाम है National Capital Territory (NCT) of Delhi । दिल्ली शहर 1484 स्क्वायर वर्ग किलोमीटर तक फैला हुआ है ।

Delhi vs Mumbai

Delhi vs Mumbai

आबादी की बात किया जाए तो 2 करोड़ से भी ज्यादा आबादी है ,जो उसे बनाता है इंडिया वन ऑफ द मोस्ट पापुलेटेड सिटी 1911 में यूनाइटेड किंगडम ने भारत का राजधानी कोलकाता हटाकर दिल्ली को ब्रिटिश भारत का बना दिया था।तब से आज तक दिल्ली भारत का राजधानी बना हुआ है ।

दिल्ली केवल मात्र भारत का नहीं बल्कि वर्ल्ड का दूसरा मोस्ट पापुलेट सिटी है । दिल्ली शहर दो तरफ से बैठा हुआ है एक है पुराना दिल्ली, दूसरा है न्यू दिल्ली । 50 बी सी में मौर्यन राजा द्वारा दिल्ली की स्थापना की गई थी और इस शहर का नाम धील्ली या धूली रखा गया था, लेकिन समय के साथ नाम में परिवर्तन आता गया ।

1206 में दिल्ली शर्तनाथ की स्थापना की गई और उसके बाद से ही यह देश का प्रमुख शहर बना हुआ है 1911 में अंग्रेजों के द्वारा देश की राजधानी कोलकाता से दिल्ली शिफ्ट किया गया था।

Also Read- Click Here

Special Place of Delhi City

दिल्ली वर्तमान में भारत के ऑफिशियल, पॉलीटिकल और कल्चरल कैपिटल है संसद भवन से लेकर राष्ट्रपति भवन तक सबकुछ दिल्ली में मौजूद है। यानी कि आज भारत देश को दिल्ली से ही चलाया जा रहा है। इसके अलावा कुतुब मीनार, लाल किला, पुराना किला जैसा कोई ऐतिहासिक धरोहर भी दिल्ली में मौजूद है ,जो अपने अंदर प्राचीन इतिहास और संस्कृति को संजय हुए हैं।

Mumbai City Introduction

Mumbai City Introduction: भारत के महाराष्ट्र राज्यों के राजधानी मुंबई शहर है । मुंबई शहर को इंडिया का धड़कन भी कहा जाता है। मुंबई भारत के सबसे बड़े शहरों में से एक है । यह शहर को भारत का फाइनेंसियल कैपिटल शहर भी कहा जाता है । यहां पर दुनिया के कोई अरबपति भी रहते हैं और महीने में 2000 कमाने वाले लोग भी हैं। यह शहर सबको प्यार देता है ।

Delhi vs Mumbai
Delhi vs Mumbai

मुंबई पहले सात दीपों में बटा हुआ था और इन सात दीपों को एक शहर बनने में 50 साल का वक्त लगा और माना जाता है की मछली पकड़ने की समुदाय की इष्ट देवी मुंबा देवी के नाम पर मुंबई का नाम मुंबई रखा गया ।

भारत का पहला फाइव स्टार होटल मुंबई में ही खुला गया था। भारत का पहला एयरपोर्ट मुंबई में 1928 में शुरू किया गया था। भारत में सबसे पहले मुंबई में ही रेलवे की यातायात व्यवस्था शुरू हुई थी । भारतीय हिंदी फिल्म इंडस्ट्री शहर है मुंबई जिसे बॉलीवुड कहा जाता है ।

Mumbai City Population

Mumbai City Population: मुंबई शहर समुद्र तल से 15 फीट की ऊंचाई पर 108 वर्ग किलोमीटर तक फैला हुआ है । भारत के आजादी के 15 साल वाद मुंबई की जनसंख्या में 29 लाख की वरहतरी देखी गई है । आज के मुंबई शहर बड़े-बड़े शॉपिंग मॉल, कॉन्प्लेक्स और इंटरटेनमेंट की ऑप्शन से भरा हुआ है।

Delhi vs Mumbai
Delhi vs Mumbai

इसके अलावा इस शहर को प्राकृतिक के करीब रखने के लिए ढेर सारे पार्क, तलाब, झील और फॉरेस्ट एरिया छोड़े गए हैं । इस शहर में MH43XX और MH46XX नंबर प्लेट वाली गाड़ियां दौड़ती मिल जाएगी। मुंबई शहर में दुनियाभर और देश के अलग-अलग लोग रहते हैं फिर भी यहां पर मराठी भाषा ऑफिशल लैंग्वेज है । 2011 के जनगणना के अनुसार मुंबई शहर में 11 लाख 20000 लोग हंसी खुशी रहते हैं।

Pratidin24ghanta.

RELATED ARTICLES

Most Popular

close